यूपी दहलाने की साजिश नाकाम,कमांडर समेत दो गिरफ्तार: भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद

लखनऊ, [राजनीति संदेश]। सीएए के विरोध की आड़ में ङ्क्षहसा की आग फैला चुके संगठन पापुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआइ) ने अब देश-प्रदेश को दहलाने की साजिश रची थी। वसंत पंचमी के आसपास लखनऊ में होने वाले ङ्क्षहदू संगठनों के कार्यक्रमों में आतंकी हमले के लिए पीएफआइ के दो आतंकी केरल से लखनऊ पहुंच भी गए, लेकिन वह अपने खौफनाक मंसूबों को पूरा कर पाते, उससे पहले स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया। एसटीएफ ने विस्फोटक व हथियार बरामद कर आतंकी हमले की साजिश नाकाम कर दी। उनके निशाने पर कई नेता भी थे।

एडीजी कानून-व्यवस्था प्रशांत कुमार के अनुसार पीएफआइ के कमांडर केरल निवासी अन्सद बदरुद्दीन व केरल के ही निवासी फिरोज खान को मंगलवार शाम करीब 6:30 बजे कुकरैल तिराहे के पास से गिरफ्तार किया गया है। दोनों आतंकी सूबे में वसंत पंचमी के मौके पर धमाकों की योजना में शामिल थे। उनके कब्जे से 16 हाई एक्सप्लोसिव डिवाइस (मय बैट्री डेटोनेटर व लाल रंग का तार), .32 बोर की एक पिस्टल, सात कारतूस, 4800 रुपये, पैन कार्ड, चार एटीएम कार्ड, दो डीएल, एक आधार कार्ड, दो पेन ड्राइव, एक मेट्रो कार्ड व 12 रेलवे टिकट बरामद हुए हैं। दोनों के पास से कई चौंकाने वाले दस्तावेज मिले हैं, जिनके आधार पर आगे की छानबीन की जा रही है।

एडीजी एसटीएफ अमिताभ यश ने बताया कि दोनों का मकसद यहां पीएफआइ के कुछ सदस्यों को विस्फोटक बांटना भी था। संदेह के घेरे में आए कुछ युवकों के बारे में छानबीन की जा रही है। दोनों के पहले 11 फरवरी को ट्रेन से लखनऊ आने की सूचना मिली थी। तब एसटीएफ ने घेराबंदी भी की थी, लेकिन दोनों का कुछ पता नहीं लग सका था। मंगलवार को दोनों के अपने कुछ साथियों से कुकरैल पिकनिक स्पॉट के पास मिलने आने की सूचना मिली थी, जिसके बाद उन्हें पकडऩे में कामयाबी मिली। शुरुआती पूछताछ में दोनों ने बताया कि पीएफआइ समुदाय विशेष के युवकों को जुटाकर उनका ब्रेनवाश कर रही है और उनके छोटे-छोटे दल बना रही है। इन युवकों को हथियार चलाने से लेकर विस्फोटक तक की ट्रेङ्क्षनग दी जा रही है। एसटीएफ दोनों आरोपितों को बुधवार सुबह लखनऊ की कोर्ट में पेश करेगी।

...