पुलिस सुरक्षा मिलने के बाद कंगना रनोट ने पूछा, ‘कांग्रेस नेताओं को कौन से किसानों ने पावर ऑफ अटॉर्नी दी है?’

नई दिल्ली, राजनीति संदेश। कांग्रेस नेताओं की धमकी के बाद कंगना रनोट की फ़िल्म धाकड़ की शूटिंग लोकेशन के आस-पास सुरक्षा व्यवस्था सख्त कर दी गयी है। मध्य प्रदेश पुलिस ने कंगना रनोट और शूटिग स्थल की सुरक्षा के लिए ख़ास इंतज़ाम किये हैं। किसान आंदोलन को लेकर कंगना के कुछ ट्वीट्स के बाद बैतूल ज़िले के स्थानीय कांग्रेस नेताओं ने उनसे माफ़ी की मांग की है। ऐसा ना होने पर उनकी फ़िल्म धाकड़ की शूटिंग रोकने की धमकी नेताओं ने दी थी। कंगना ने शुक्रवार को इसकी पुष्टि करते हुए कांग्रेस नेताओं से पूछा कि उन्हें कौन-से किसानों ने पावर ऑफ अटॉर्नी दी है?

कंगना धाकड़ की शूटिंग मध्य प्रदेश के बेतुल ज़िले से सरनी इलाक़े में कर रही हैं। सरनी के एसपी सिटी अभय राम चौधरी ने पीटीआई को फोन पर बताया कि राज्य के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बेतुल के एसपी सिमाला प्रसाद से बात की थी, जिसके बाद एक्ट्रेस की सुरक्षा बढ़ा दी गयी है। लाठी और बंदूकों के साथ एक पावर प्रोजेक्ट के पास स्थित कोल हैंडलिंग प्लांट में पुलिस बल तैनात किया गया है। यहां फ़िल्म की शूटिंग चल रही है। सीएचएल के मुख्य दरवाज़े पर पुलिस बल तैनात है। यहीं से फ़िल्म कलाकार शूटिंग के लिए पहुंचते हैं। कंगना जिस रिजॉर्ट में रह रही हैं, वहां एक इंस्पेक्टर की ड्यूटी लगायी गयी है, जो कंगना की सुरक्षा संभाल रहे हैं। यह रिजॉर्ट सरनी शहर से लगभग 45 किमी दूर है।

कंगना ने पुलिस सुरक्षा मिलने की पुष्टि सोशल मीडिया में करते हुए ट्वीट किया- मेरे इर्द-गिर्द पुलिस सुरक्षा बढ़ा दी गयी है, क्योंकि एमपी में कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने मेरा शूट रोकने के लिए प्रोटेस्ट मार्च निकाला था। कांग्रेस एमएलए कह रहे हैं कि वो किसानों की ओर से विरोध कर रहे हैं। कौन से किसानों ने उन्हें पावर ऑफ़ अटॉर्नी दी है। वो अपने लिए ख़ुद क्यों नहीं कर सकते?

...