घर के वास्तु दोष को दूर करेंगे हनुमान, जानें कैसे करें उनकी तस्वीरों का इस्तेमाल

अध्यात्म राजनीति संदेश [ब्यूरो] I  धर्मग्रंथों के अनुसार, श्रीराम भक्त हनुमान अजर-अमर हैं, वो हर युग में रहते हैं। हनुमानजी की भक्ति करने से सभी संकट चमत्कारिक रूप से समाप्त होकर भक्त को शांति और सुख प्राप्त होता है। बजरंगबली थोड़ी सी पूजा से जल्दी प्रसन्न होकर अपने भक्तों के कष्टों का निवारण करते हैं। वास्तु के अनुसार, जिस घर में हनुमान जी की तस्वीर या प्रतिमा होती है, वहां भूत-प्रेत,पिशाच और बुरी आत्माएं कभी नहीं टिक पातीं। मंगल, शनि एवं पितृ दोषों से मुक्ति कि लिए भी हनुमान जी की आराधना अत्यंत लाभकारी होती है। घर में फैली नकारात्मक ऊर्जा एवं वास्तुदोष को दूर करने के लिए आप हनुमान जी की स्तुति करने के अलावा घर में हनुमान जी की तस्वीर लगा सकते हैं।

पंचमुखी हनुमान

ज्योतिषविद्  ने बताया कि राम-लक्ष्मण को अहिरावण से मुक्त कराने के लिए हनुमानजी ने पंचमुखी रूप धारण किया था। उत्तर दिशा में वराह मुख, दक्षिण दिशा में नरसिंह मुख, पश्चिम में गरुड़ मुख, आकाश की तरफ हयग्रीव मुख एवं पूर्व दिशा में हनुमान मुख। वास्तुविज्ञान के अनुसार, पंचमुखी हनुमानजी की मूर्ति जिस घर में होती है, वहां उन्नति के मार्ग में आने वाली बाधाएं दूर होती हैं और धन संपत्ति में वृद्धि होती है।

यदि आपको लगता है कि आपके घर पर नकारात्मक शक्तियों का असर है, तो आप पंचमुखी हनुमानजी का चित्र मुख्य द्वार के ऊपर लगा सकते हैं या ऐसी जगह लगाएं जहां से यह सभी को नजर आए। ऐसा करने से घर में किसी भी तरह की बुरी शक्ति प्रवेश नहीं कर सकती है।

दक्षिण दिशा में लाल रंग के केसरीनन्दन

दक्षिण दिशा में लाल रंग की बैठी हुई मुद्रा में हनुमान जी का चित्र लगाने से दक्षिण दिशा से आने वाली नकारात्मक ऊर्जा एवं बुरी ताकतें दूर हो सकती हैं, धीरे-धीरे घर में सुख-शांति आने लगती है। दक्षिण दिशा की ओर मुख करके हनुमानजी का चित्र इसलिए अधिक शुभ है क्योंकि हनुमानजी ने अपना प्रभाव सर्वाधिक इसी दिशा में दिखाया है। हनुमानजी का चित्र लगाने पर दक्षिण दिशा से आने वाली हर बुरी ताकत हनुमानजी का चित्र देखकर लौट जाती है।

रामजी के चरणों में बैठे हनुमान

राम दरबार में रामजी के चरणों में बैठे हनुमानजी का चित्र बैठक कक्ष में लगाने से परिवार के सदस्यों में आपसी प्रेम, विश्वास, स्नेह और एकता को बढ़ाने में सहायता मिलती है।

कीर्तन करते हुए हनुमान

परिवार के सदस्यों में धार्मिक भावना बनाए रखने कि लिए श्री राम की आराधना करते हुए या श्री राम का कीर्तन करते हुए हनुमान जी का चित्र लगाना अति शुभ होता है। इस चित्र को लगाने से परिवार के सदस्यों का आपसी विश्वास भी मजबूत होता है।

पर्वत उठाए हुए बजरंगबली

अगर परिवार के सदस्यों में साहस एवं आत्मविश्वास की कमी हो तो अपने एक हाथ में पर्वत उठाए हुए हनुमान जी का चित्र घर में लगाना लाभ प्रदान करेगा। यदि यह चित्र आपके घर में है तो आपमें साहस, बल, विश्वास और जिम्मेदारी का विकास होगा। आप किसी भी परिस्थिति से घबराएंगे नहीं, हर समस्या का समाधान जल्दी हो सकता है।

उड़ते हुए मारुति नंदन

यदि आपने कोई भी कठिन कार्य को करने की ठान ली है, तो उड़ते हुए हनुमानजी का चित्र लगाना आपके कार्य में सहायक सिद्ध हो सकता है। जीवन में उत्साह, सफलता, उमंग पाने कि लिए आकाश में उड़ते हुए हनमान जी का चित्र लगा सकते हैं।

कंधे पर राम-लक्ष्मण उठाए हुए बजरंगबली

किसी कार्य में सफलता पाने के लिए लंका दहन करते हुए या राम-लक्ष्मण को कंधे पर उठाए हुए हनुमान जी का चित्र लगाया जा सकता है।

श्रीराम भजन करते हुए हनुमान-

यदि यह चित्र आपके घर में है तो आप में भक्ति और विश्वास का संचार होगा। यह भक्ति और विश्वास ही आपके जीवन की सफलता का आधार है।

राजनीति संदेश [ब्यूरो]

...